Home छात्रवृत्ति भारतीय लड़कियों के लिए स्कॉलरशिप 2022  – सूची, आवेदन प्रक्रिया 
Scholarship for Girls 2022

भारतीय लड़कियों के लिए स्कॉलरशिप 2022  – सूची, आवेदन प्रक्रिया 

by Sadhana Soni

भारत में बहुत सी ऐसी सरकारी व गैर सरकारी संस्थाएं हैं जो लड़कियों के कल्याण के लिए अनेकों योजनाएं चला रही हैं सरकारी योजनाओं के तहत सरकार के विभिन्न विभागों के द्वारा भारत में बालिकाओं को उनकी शिक्षा में मदद करने के लिए स्कॉलरशिप प्रदान की जाती हैं। आज इस लेख के माध्यम से बालिकाओं के लिए उपलब्ध सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं के जरिये मिलने वाली विभिन्न भारतीय बालिका छात्रवृत्ति योजनाओं के बारे में जानेंगे।

भारतीय बालिका छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने हेतु आवश्यक योग्यता मानदंड और भारत में मौजूद विभिन्न संगठनों द्वारा दी जा रही विभिन्न प्रकार की छात्रवृत्ति योजनाओं से मिलने वाले पुरस्कारों को भी साझा किया गया है। इन योजनाओं के लिए आवेदन अवधि और आवेदन प्रक्रिया के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए लेख को अंत तक पढ़ें।

Table of Contents

इंडियन गर्ल्स स्कॉलरशिप 2022

यदि आप बालिका हैं और अपनी शिक्षा जारी रखना चाहते हैं तो आप भारत में उपलब्ध विभिन्न प्रकार की छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर  सकते हैं। शिक्षा के लिए धन सम्बन्धी चिंता किए बिना बालिकाओं को अपनी शिक्षा जारी रखने में मदद करने के लिए भारत में विभिन्न प्रकार की छात्रवृत्ति योजनाएं उपलब्ध हैं। आप अपनी श्रेणी और जरूरतों और चाहतों के अनुसार इंडियन गर्ल्स स्कॉलरशिप का विकल्प चुन सकते हैं। भारत में निजी संगठन लाभार्थियों को उनकी शिक्षा जारी रखने में मदद करने के लिए बड़ी संख्या में छात्रवृत्ति प्रदान करते हैं। आप भारत में मौजूद संगठनों द्वारा उपलब्ध निम्नलिखित 26 छात्रवृत्तियों में से किसी एक का विकल्प चुन सकते हैं। संगठनों द्वारा बताई गई आवेदन पद्धति का पालन करते हुए आवेदन करना सुनिश्चित करें।

भारतीय लड़कियों के लिए स्कॉलरशिप 2022 – संक्षिप्त जानकारी

नाम इंडियन गर्ल्स स्कॉलरशिप 2022
किसकी योजना विभिन्न सरकारी व गैर सरकारी संस्थाओं की
उद्देश्य बालिकाओं को सहायता प्रदान करना
लाभार्थी भारत की बालिकाएं
आधिकारिक साइट योजना के अनुसार भिन्न- भिन्न

भारतीय लड़कियों के लिए स्कॉलरशिप 2022- लिस्ट  

सं. क्र. भारतीय बालिका छात्रवृत्ति की सूची आवेदन अवधि* आवेदन का तरीका योजना का प्रकार
1 एआईसीटीई प्रगति स्कॉलरशिप फॉर गर्ल्स 2021-22 नवंबर/दिसंबर ऑनलाइन सरकारी 
2 बेगम हज़रत महल नेशनल स्कॉलरशिप अगस्त, सितम्बर ऑनलाइन, डाक द्वारा सरकारी 
3 इंदिरा गाँधी स्कॉलरशिप फॉर सिंगल गर्ल चाइल्ड मार्च ऑनलाइन सरकारी
4 सीबीएसई (CBSE) उड़ान अगस्त, सितम्बर ऑनलाइन सरकारी
5 एसओएफ गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप स्कीम 31 दिसंबर 2022 डाक द्वारा गैर-सरकारी
6 टेक्निप इंडिया लिमिटेड स्कॉलरशिप प्रोग्राम अक्टूबर से दिसंबर ऑनलाइन गैर-सरकारी
7 संतूर वूमेंस स्कॉलरशिप अगस्त / सितम्बर ऑनलाइन गैर-सरकारी
8 लेडी मेहरबाई डी टाटा एजुकेशन स्कॉलरशिप मार्च, अप्रैल आवेदन डाक या ईमेल द्वारा जमा किया जा सकता है गैर-सरकारी
9 एडोब इंडिया वीमेन-इन-टेक्नोलॉजी स्कॉलरशिप सितम्बर से नवंबर के बीच ऑनलाइन गैर-सरकारी
10 टाटा हाउसिंग स्कॉलरशिप फॉर मेरिटोरियस गर्ल्स स्टूडेंट्स फरवरी /मार्च ऑनलाइन गैर-सरकारी
11 ग्लो एंड लवली स्कॉलरशिप सितम्बर, अक्टूबर ऑनलाइन गैर-सरकारी
12 प्रभा दत्त फैलोशिप साल भर चालू रहती है डाक या ईमेल द्वारा गैर-सरकारी
13 लॉरिअल इंडिया फॉर यंग वुमन इन साइंस स्कॉलरशिप जून, जुलाई ऑनलाइन गैर-सरकारी
14 क्लिनिक प्लस स्कॉलरशिप मई, जून डाक द्वारा गैर-सरकारी
15 इंटर्नशाला स्कॉलरशिप दिसंबर, जनवरी ऑनलाइन गैर-सरकारी
16 डीएसटी वुमन साइंटिस्ट फैलोशिप (WOS-B) सितम्बर ऑनलाइन सरकारी
17 डीएसटी वुमन साइंटिस्ट फैलोशिप (WOS-A) साल भर चालू रहती है ऑनलाइन सरकारी
18 अभिलाषा स्कॉलरशिप अगस्त ऑनलाइन गैर-सरकारी
19 उगम लेग्रैंड स्कॉलरशिप प्रोग्राम जून /जुलाई ऑनलाइन गैर-सरकारी
20 डॉ. रेड्डीज फाउंडेशन सशक्त स्कॉलरशिप 31 अगस्त 2022 ऑनलाइन गैर-सरकारी
21 श्रीमती गीता लोचन बालिका स्कॉलरशिप कार्यक्रम जून व्यक्तिगत रूप से या डाक द्वारा गैर-सरकारी
22 सावित्रीबाई फुले स्कॉलरशिप वर्ष भर चालू रहती है स्कूल द्वारा सरकारी
23 मुस्लिम नादर गर्ल्स स्कॉलरशिप, केरल जुलाई /अगस्त ऑनलाइन सरकारी
24 जेबीएनएसटीएस (JBNSTS) स्कॉलरशिप – बिज्ञानी कन्या मेधा बृत्ति 31 जुलाई 2022 ऑनलाइन, डाक द्वारा गैर-सरकारी
25 सीबीएसई स्कॉलरशिप फॉर सिंगल गर्ल चाइल्ड अक्टूबर /नवंबर ऑनलाइन सरकारी
26 रोल्स-रॉयस उन्नति स्कॉलरशिप्स फॉर वुमन इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स 1 अगस्त 2022 ऑनलाइन गैर-सरकारी 

नोट -ऊपर बताई गई आवेदन की अवधि अस्थाई है, यह स्कॉलरशिप प्रदाता के निर्णय के अनुसार हर वर्ष बदल सकती है

भारतीय लड़कियों के लिए स्कॉलरशिप 2022 – विवरण

1. एआईसीटीई प्रगति स्कॉलरशिप फॉर गर्ल्स 

उद्देश्यएआईसीटीई प्रगति स्कॉलरशिप उन छात्राओं के लिए है, जिन्होंने एआईसीटीई द्वारा मान्यता प्राप्त संस्थान में टेक्निकल डिप्लोमा/डिग्री कार्यक्रम के प्रथम वर्ष में प्रवेश लिया है। इस स्कॉलरशिप के तहत हर साल 5000 छात्राओं को उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए 30,000 रुपये तक की छात्रवृत्ति राशि प्रदान की जाती है।

योग्यता –वर्तमान शैक्षणिक वर्ष में एआईसीटीई द्वारा मान्यता प्राप्त संस्थान में टेक्निकल डिप्लोमा/डिग्री कार्यक्रम के प्रथम वर्ष या द्वितीय वर्ष (लेटरल एंट्री के माध्यम से) में प्रवेश लेने वाली बालिकाएं आवेदन कर सकती हैं। पारिवारिक वार्षिक आय 8 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। एक परिवार की दो से अधिक लड़कियां छात्रवृत्ति के लिए आवेदन नहीं कर सकती हैं।  

पुरस्कार – प्रतिवर्ष 30,000 रुपये या वास्तविक शिक्षण शुल्क राशि, जो भी कम हो और 2000  रुपये प्रति माह 10 महीने के लिए प्रत्येक वर्ष आकस्मिक शुल्क के रूप में प्राप्त होंगे।

2. इंदिरा गाँधी स्कॉलरशिप फॉर सिंगल गर्ल चाइल्ड

उद्देश्यसिंगल गर्ल चाइल्ड के लिए इंदिरा गांधी छात्रवृत्ति  द्वारा ऐसी छात्राएं लाभ प्राप्त कर सकती हैं जिन्होंने गैर-व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में स्नातकोत्तर अध्ययन करने के लिए किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज के पहले वर्ष में प्रवेश लिया हो। आवेदक अपने माता-पिता की एकमात्र संतान हो। 

योग्यता –

  • यह स्कॉलरशिप 30 वर्ष तक की अधिकतम आयु सीमा के साथ सिर्फ छात्राओं को दी जाती है।
  • आवेदक परिवार की सिंगल गर्ल (एकलौती संतान) चाइल्ड होनी चाहिए।
  • आवेदक ने किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज में रेगुलर, फुल-टाइम नॉन प्रोफेशनल पीजी (मास्टर डिग्री) कोर्स के पहले वर्ष में प्रवेश लिया हो।
  • दूरस्थ मोड में पीजी पाठ्यक्रम लागू नहीं है।

पुरस्कार –2 वर्ष की अवधि के लिए 36,200 रुपए हर साल प्राप्त होंगे।

3. सीबीएसई स्कॉलरशिप फॉर सिंगल गर्ल चाइल्ड

उद्देश्य -सीबीएसई द्वारा शुरू की गई सिंगल गर्ल चाइल्ड छात्रवृत्ति के तहत 11वीं और 12वीं  कक्षा की मेधावी छात्राओं को 500 रुपये की मासिक छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है। यह छात्रवृत्ति उन छात्राओं के लिए है जो अपने माता-पिता की इकलौती संतान हैं।

योग्यता – कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा में कम से कम 60% या 6.2 सीजीपीए वाली छात्राएं, सीबीएसई से संबद्ध स्कूलों से कक्षा 11 और 12 की पढ़ाई कर रही हों। ट्यूशन शुल्क प्रति माह रूपया 1500 से अधिक नहीं होना चाहिए।             अपने माता-पिता की एकमात्र संतान होनी चाहिए।

पुरस्कारदो शैक्षणिक वर्षों के लिए प्रतिमाह 500  रुपये की स्कॉलरशिप प्राप्त होगी।

4. बेगम हज़रत महल नेशनल स्कॉलरशिप

उद्देश्य बेगम हज़रत महल राष्ट्रीय स्कॉलरशिप , इसे पहले मौलाना आज़ाद स्कॉलरशिप कहा जाता था। इसके तहत 9 वीं से 12 वीं कक्षा तक की अल्पसंख्यक छात्राओं को 6,000 रुपए तक की स्कॉलरशिप राशि दी जाती है। यह स्कॉलरशिप मुस्लिम, ईसाई, सिख, बौद्ध, जैन और पारसी समुदाय से संबंधित मेधावी छात्राओं को दी जाती है।

योग्यता – अल्पसंख्यक समुदायों से संबंधित केवल महिला छात्र, जिनकी पिछली कक्षा में न्यूनतम कुल 50% अंक होना चाहिए तथा इनकी पारिवारिक वार्षिक आय 2 लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।

पुरस्कार – 9वीं और 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली लड़कियों के लिए 5,000 रुपए 

 11वीं और 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली लड़कियों के लिए 6,000 रुपए।  

5. डीएसटी वुमन साइंटिस्ट फैलोशिप (WOS-B)

उद्देश्यडीएसटी महिला वैज्ञानिक फैलोशिप (डब्ल्यूओएस-बी) एस एंड टी डोमेन में ऐसी महिला वैज्ञानिकों को 50,000 रुपये तक की फैलोशिप प्रदान करती है जो करियर में ब्रेक ले रही हैं। यह फैलोशिप उन महिला उम्मीदवारों के लिए है जिनके पास नियमित रोजगार नहीं है और वे पेशे में फिर से प्रवेश की संभावना तलाशने के लिए तैयार हैं।  

योग्यता – बेसिक या एप्लाइड साइंसेज/बी.टेक/एमबीबीएस,एम.फिल /एम.टेक /एम.फार्म /एम.वीएससी, पीएच.डी. बेसिक या एप्लाइड साइंसेज या समकक्ष योग्यता वाली महिला उम्मीदवार आवेदन की पात्र हैं। आवेदन करने की न्यूनतम आयु 27 वर्ष और अधिकतम 57 वर्ष है।  आरक्षित श्रेणी (एससी / एसटी / ओबीसी / पीडब्ल्यूडी) के उम्मीदवारों को 5 वर्ष की छूट दी गई है।

पुरस्कार –  प्रोजेक्ट की लागत के आधार पर 31000 रुपए से लेकर 55000 रुपए  तक की राशि प्रति माह प्राप्त होगी। 

6. डीएसटी वुमन साइंटिस्ट फैलोशिप (WOS-A)

उद्देश्यडीएसटी महिला वैज्ञानिक फैलोशिप (WOS-A) उन महिला वैज्ञानिकों को 55,000 रुपए प्रति माह की फैलोशिप देती है जिनके पास बेसिक या एप्लाइड साइंसेज में पीजी डिग्री या पीएचडी डिग्री हैं। वे उम्मीदवार जो करियर ब्रेक कर रहे हैं और एस एंड टी डोमेन में पेशे (प्रोफेशन) को फिर से शुरू करने का अवसर तलाश रहे हैं उन्हें प्राथमिकता दी जाती है।

योग्यता – बेसिक या एप्लाइडसाइंसेज /बी.टेक /एमबीबीएस,एम.फिल /एम.टेक /एम.फार्म /एम.वीएससी में एमएससी के समकक्ष पीजी डिग्री, पीएच.डी. बेसिक या एप्लाइड साइंसेज या समकक्ष योग्यता वाली महिला वैज्ञानिक आवेदन की पात्र हैं। आवेदन करने की न्यूनतम आयु 27 वर्ष और अधिकतम 57 वर्ष है, आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों (एससी / एसटी / ओबीसी / पीडब्ल्यूडी) को 5 वर्ष की छूट दी गई है।

पुरस्कार – प्रोजेक्ट की लागत के आधार पर 31000 रुपए से लेकर 55000 रुपए तक प्रति माह। 

7. एसओएफ गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप स्कीम

उद्देश्य -साइंस ओलंपियाड फाउंडेशन द्वारा शुरू की गई एसओएफ (SOF) गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप योजना,  पहली से 10वीं कक्षा तक की छात्राओं को सालाना 5000 रुपये की छात्रवृत्ति प्रदान करती है। इस छात्रवृत्ति योजना के तहत  समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों से संबंधित 300 महिला उम्मीदवारों को छात्रवृत्तियां वितरित की जाती हैं।

योग्यता – पहली से 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्राएं जिन्होंने पिछली कक्षा में कम से कम 60% अंक प्राप्त किये हों व पारिवारिक आय 15,000 रुपए प्रति माह से अधिक न हो वे आवेदन की पात्र हैं।

पुरस्कार – 5000 रुपए  की राशि प्रतिवर्ष प्राप्त होगी

8. रोल्स-रॉयस उन्नति स्कॉलरशिप्स फॉर वुमन इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स

उद्देश्य‘रोल्स-रॉयस उन्नति स्कॉलरशिप फॉर वूमेन इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स’,  रोल्स-रॉयस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की एक पहल है। इस छात्रवृत्ति का उद्देश्य भारत में एआईसीटीई से मान्यता प्राप्त संस्थान में स्नातक इंजीनियरिंग डिग्री कार्यक्रम के पहले / दूसरे / तीसरे वर्ष में पढ़ने वाली छात्राओं की आर्थिक रूप से मदद करना है। यह मुख्य रूप से विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित (एसटीईएम) विषयों में रुचि रखने वाले छात्रों को समर्थन और प्रोत्साहित करने पर केंद्रित है। 

योग्यता – 

  • आवेदकों को एआईसीटीई से मान्यता प्राप्त संस्थान में इंजीनियरिंग डिग्री प्रोग्राम (एयरोस्पेस, मरीन, इलेक्ट्रॉनिक्स, कंप्यूटर, आदि जैसे क्षेत्रों में) के पहले / दूसरे / तीसरे वर्ष में पढ़ना चाहिए।
  • आवेदक ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में 60% से अधिक अंक प्राप्त किये हों।
  • केवल छात्राएं ही आवेदन की पात्र हैं।

पुरस्कार – चयनित उम्मीदवार को 35,000 रुपए की स्कॉलरशिप प्राप्त होगी। 

9. जेबीएनएसटीएस (JBNSTS) स्कॉलरशिप – बिज्ञानी कन्या मेधा बृत्ति  2022

उद्देश्य जेबीएनएसटीएस (JBNSTS) स्कॉलरशिप – बिज्ञानी कन्या मेधा बृत्ति उन छात्राओं को वित्तीय सहायता देती है जो एक ऐसे शैक्षणिक संस्थान में अध्ययन कर रही हैं जो पश्चिम बंगाल में रजिस्टर्ड  है। इस स्कॉलरशिप योजना के तहत, चयनित छात्राएं अन्य आर्थिक लाभों के अलावा, अपने आप प्रतिवर्ष 80,000 रुपए राशि की डीएसटी-इन्स्पायर स्कॉलरशिप की हकदार बन जाती हैं।

योग्यता –वे छात्राएं जो वर्तमान शैक्षणिक वर्ष में 12वीं कक्षा या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण कर चुकी हैं और अंडरग्रेजुएट कार्यक्रमों जैसे बीएससी (ऑनर्स), इंजीनियरिंग, मेडिसिन (प्रथम वर्ष) में अध्ययन कर रही हैं, वे आवेदन की पात्र हैं। आवेदक की संस्था को पश्चिम बंगाल में पंजीकृत होना चाहिए 

पुरस्कार -स्नातक के लिए 4000  रुपए प्रति माह जब तक कि वे एमबीबीएस, बीटेक या बीई की डिग्री प्राप्त नहीं कर लेते हैं, तथा उम्मीदवार अपने आप एम.ए तक 80,000 रुपए की राशि के डीएसटी-इन्स्पायर स्कॉलरशिप के हकदार हो जाते हैं इसके साथ ही 5000  रुपए का वार्षिक पुस्तक अनुदान सहित करियर मार्गदर्शन व सेमिनार में भाग लेने का अवसर भी प्राप्त होगा प्राप्त होगा। 

10. टेक्निप इंडिया लिमिटेड स्कॉलरशिप प्रोग्राम 

उद्देश्य- टेक्निप इंडिया लिमिटेड, अपनी सीएसआर (CSR)  पहल के तहत विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित (STEM) के क्षेत्र में वंचित महिला उम्मीदवारों की शिक्षा का समर्थन करने के लिए टेक्निप इंडिया लिमिटेड छात्रवृत्ति कार्यक्रम प्रदान करता है। इस स्कॉलरशिप के द्वारा 150  महिला उम्मीदवारों को उनके शिक्षण शुल्क खर्च के लिए सहायता प्राप्त होगी। 

योग्यता- यह स्कॉलरशिप चेन्नई, मुंबई और दिल्ली की महिला विद्यार्थियों के लिए है जो विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहती हैं।  11वीं कक्षा (साइंस स्ट्रीम) या इंजीनियरिंग (बीई) प्रोग्राम (केमिकल / मैकेनिकल / इलेक्ट्रिकल / इंस्ट्रुमेंटेशन एंड कंट्रोल) के चौथे वर्ष में नामांकित छात्राएं इस स्कॉलरशिप के लिए पात्र हैं। आवेदक की पारिवारिक वार्षिक आय 3 लाख रुपए से कम या बराबर होनी चाहिए।

पुरस्कार – 20,000 रुपए प्रति वर्ष (एक बार- निश्चित)

11. संतूर वूमेंस स्कॉलरशिप – 

उद्देश्य-  संतूर वूमेंस स्कॉलरशिप आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तेलंगाना की 900 छात्राओं को दी जाती है। विप्रो कंज्यूमर केयर और विप्रो केयर्स द्वारा दी जाने वाली संतूर महिला छात्रवृत्ति, 12वीं कक्षा पास कर चुकी ऐसी छात्राओं के लिए है जो मानविकी, उदार कला और विज्ञान के क्षेत्र में उच्च शिक्षा हासिल करना चाहती है।

योग्यता- आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तेलंगाना की महिला छात्राएं जिन्होंने वर्तमान शैक्षणिक वर्ष में किसी सरकारी स्कूल से कक्षा 12 वीं या जूनियर कॉलेज और किसी स्थानीय सरकारी स्कूल से कक्षा 10 उत्तीर्ण की हैं, उन्हें वर्तमान में न्यूनतम 3 वर्ष की अवधि के पूर्णकालिक डिप्लोमा या डिग्री कार्यक्रम में नामांकित होना चाहिए और एक कमजोर और वंचित पृष्ठभूमि (बैकग्राउंड) से होनी चाहिए।

पुरस्कार – 24,000 रुपए की राशि प्रति वर्ष प्राप्त होगी

12. लेडी मेहरबाई डी टाटा एजुकेशन स्कॉलरशिप 2022-23

उद्देश्य-  लेडी मेहरबाई डी टाटा एजुकेशन स्कॉलरशिप छात्रवृत्ति ऐसी स्नातक भारतीय महिलाओं/बालिकाओं को धन सम्बन्धी सहायता प्रदान करती है जिन्होंने यूएस, यूके या यूरोप के प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थानों में निम्नलिखित क्षेत्रों में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए आवेदन किया है या प्रवेश प्राप्त किया है: 

सामाजिक कार्य, सामाजिक विज्ञान, शिक्षा, विशेष आवश्यकताओं वाले बच्चों के कल्याण और शिक्षा, लिंग अध्ययन – महिलाओं और बच्चों के खिलाफ हिंसा में शामिल घरेलू हिंसा, बाल स्वास्थ्य – विकास और पोषण, स्वास्थ्य नीति और स्वास्थ्य शिक्षा – मानसिक स्वास्थ्य (महिलाओं और बच्चों पर ध्यान देने के साथ), सार्वजनिक स्वास्थ्य – सामुदायिक स्वास्थ्य सेवाएँ और प्रजनन स्वास्थ्य, ग्रामीण विकास कार्य, किशोरों की आवश्यकताएं – शहरी और ग्रामीण, विकास के लिए संचार, विकास अध्ययन, समुदायों में सामाजिक मानदंडों का अध्ययन और रिसर्च।

योग्यता – महिला उम्मीदवार जिन्होंने अपना स्नातक पूरा कर लिया है और लगातार उच्च शैक्षणिक रिकॉर्ड का प्रदर्शन किया है। आवेदक ने अमेरिका, ब्रिटेन या यूरोप में एक प्रतिष्ठित मान्यता प्राप्त संस्थान में आवेदन या प्रवेश किया हो और अध्ययन से संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम 2 साल का कार्य अनुभव हो वे आवेदन के योग्य हैं।

पुरस्कार- साक्षात्कार में उम्मीदवार के प्रदर्शन के आधार पर चयनित उम्मीदवारों को शिक्षण शुल्क के रूप में 3 से 6 लाख रुपए तक की सहायता प्राप्त होगी।

13. एडोब इंडिया वीमेन इन टेक्नोलॉजी स्कॉलरशिप 

उद्देश्य – एडोब इंडिया वुमन-इन-टेक्नोलॉजी स्कॉलरशिप कंप्यूटर विज्ञान, कंप्यूटर इंजीनियरिंग या संबंधित तकनीकी क्षेत्र में एक फॉर्मल टेक्नोलॉजी प्रोग्राम में रजिस्टर्ड भारतीय महिलाओं के लिए है। एडोब रिसर्च द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति का उद्देश्य प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उत्कृष्ट महिला छात्राओं को कंप्यूटिंग और प्रौद्योगिकी में उत्कृष्टता के लिए प्रोत्साहित करके विज्ञान और इंजीनियरिंग क्षेत्र में सहायता प्रदान करना है। चयनित छात्राओं को परिवर्तनीय पुरस्कार प्राप्त होंगे।

योग्यता – भारतीय महिला उम्मीदवार जो किसी भारतीय विश्वविद्यालय या संस्थान में 4 वर्षीय बी ई./बी.टेक कार्यक्रम या एक एकीकृत एम.ई./एम.एस./एम.टेक में नामांकित हों, वे आवेदन कर सकते हैं। आवेदक निम्नलिखित स्ट्रीम का विद्यार्थी होना चाहिए : 

  • कंप्यूटर साइंस/इंजीनियरिंग
  • सूचना विज्ञान
  • डेटा साइंस
  • इलेक्ट्रिकल/इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग
  • गणित
  • कम्प्यूटिंग

पुरस्कार- 

  • चयनित छात्राओं को वर्तमान शैक्षणिक वर्ष में समाप्त होने वाली अपनी शेष विश्वविद्यालय शिक्षा के लिए ट्यूशन फीस के लिए धन प्राप्त होगा।
  • एडोब इंडिया में समर इंटर्नशिप में शामिल होने का अवसर मिलेगा।
  • एडोब के एक वरिष्ठ प्रौद्योगिकी नेता द्वारा परामर्श प्राप्त होगा।
  • भागीदारी शुल्क के कवरेज सहित ग्रेस हॉपर कॉन्फ्रेंस इंडिया की यात्रा करने का अवसर प्राप्त होगा।

14. ग्लो एंड लवली स्कॉलरशिप

उद्देश्य ग्लो एंड लवली स्कॉलरशिप के तहत कॉलेज जाने वाली छात्राओं को एक सरकारी मान्यता प्राप्त भारतीय विश्वविद्यालय या संस्थान से स्नातक या स्नातकोत्तर की शिक्षा प्राप्त करने में मदद करने के लिए 25,000 रुपए से 50,000 रुपए तक की स्कॉलरशिप राशि प्रदान की जाती है। इस स्कॉलरशिप योजना के तहत कुल 55 छात्राओं को लाभ लेने का अवसर प्राप्त होता है।

योग्यता –छात्राओं की आयु 15 से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

10वीं और 12वीं कक्षा में 60% से अधिक अंक प्राप्त किये हों।

परिवार की वार्षिक आय 6 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।

स्नातक/स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम में अध्ययनरत होना चाहिए या कोचिंग कक्षाएं ले रही हों। 

पुरस्कार – 25,000 से 50,000 रुपये तक की सहायता प्राप्त होगी

15. प्रभा दत्त फैलोशिप

उद्देश्य प्रभा दत्त फैलोशिप, संस्कृति प्रतिष्ठान द्वारा शुरू किया गया है, जो समकालीन प्रासंगिकता (contemporary relevance) के विषयों पर सार्थक प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने में मदद करने के लिए मध्य-करियर (mid-career) महिला पत्रकारों को 1,00,000 रुपए का पुरस्कार प्रदान करता है।  प्रोजेक्ट को हिंदी, अंग्रेजी या किसी भी क्षेत्रीय भाषा में प्रस्तुत किया जा सकता है। उम्मीदवारों को 250-300 शब्दों में अपने प्रोजेक्ट का वर्णन करते हुए एक लेख लिखकर अपने रिज्यूम के साथ भेजना होगा।

योग्यता –25 से 40 वर्ष की आयु वर्ग वाली प्रिंट मीडिया की महिला पत्रकार आवेदन की पात्र हैं।

पुरस्कार – इस 10 महीने की लंबी फैलोशिप के तहत 1,00,000 रुपए का पुरस्कार दो चरणों में दिया जाता है:- एक, परियोजना के प्रारंभ में और दूसरा, पूरी परियोजना के प्रस्तुत करने के बाद।

16. लॉरिअल इंडिया फॉर यंग वुमन इन साइंस स्कॉलरशिप

उद्देश्यलॉरियल इंडिया फॉर यंग वुमेन इन साइंस स्कॉलरशिप के तहत 12वीं कक्षा पास करने वाली ऐसी मेधावी छात्राओं को 2.5 लाख रुपये तक की स्कॉलरशिप राशि प्रदान की जाती है, जो साइंस में अपना करियर बनाना चाहती हैं। यह छात्रवृत्ति अधिकतम 19 वर्ष की आयु की लड़कियों के लिए है। समाज के आर्थिक रूप से वंचित वर्ग की छात्राएं इस छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर सकती हैं।

योग्यता – छात्राओं को पीसीएम / पीसीबी / पीसीएम में कम से कम 85% अंकों के साथ साइंस स्ट्रीम (वर्तमान शैक्षणिक सत्र) से 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए तथा साइंस / मेडिकल / इंजीनियरिंग / बायोटेक्नोलॉजी या किसी अन्य वैज्ञानिक क्षेत्र में डिग्री कोर्स करने के लिए तैयार होना चाहिए। 19 वर्ष तक की आयु वाली महिला आवेदक जिनकी पारिवारिक वार्षिक आय 4 लाख रुपए से अधिक न हो वे स्कॉलरशिप के लिए आवेदन कर सकती हैं।

पुरस्कार – ग्रेजुएशन तक के लिए 2.5 लाख रुपए तक की राशि प्राप्त होगी।

17. इंटर्नशाला स्कॉलरशिप

उद्देश्यइंटर्नशाला करियर स्कॉलरशिप फॉर गर्ल्स छात्रवृत्ति किसी भी क्षेत्र (शिक्षा, खेल, कला, आदि) में अपने सपनों के करियर को आगे बढ़ाने के लिए बाधाओं से लड़ने वाली लड़की को 25,000 रुपये की एकमुश्त छात्रवृत्ति प्रदान करती है।

योग्यता – करियर बनाने के उद्देश्य के साथ 17 से 23 वर्ष की आयु के बीच की कोई भी लड़की आवेदन कर सकती है। 

पुरस्कार – 25,000 रुपये (नकद पुरस्कार) की सहायता प्राप्त होगी

18. उगम लेग्रैंड स्कॉलरशिप प्रोग्राम

उद्देश्ययूजीएएम (UGAM) – लेग्रैंड (Legrand) स्कॉलरशिप कार्यक्रम, लेग्रैंड इंडिया द्वारा शुरू किया गया है, जो 12 वीं कक्षा की उत्तीर्ण छात्राओं को बी.टेक, बी.ई. (B.Tech, B.E ) या भारत के किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज या विश्वविद्यालय से बी.आर्क (B.Arch) करने के लिए प्रति वर्ष 60,000 रुपए तक की स्कॉलरशिप राशि प्रदान करता है। उम्मीदवारों को दिए गए विषय पर 600 शब्दों में तीन वर्णनात्मक प्रश्नों के उत्तर देने होते हैं। इस छात्रवृत्ति योजना के तहत, 50 उम्मीदवारों को छात्रवृत्ति पुरस्कार के लिए योग्यता, आवश्यकता और पारिवारिक आय के आधार पर चुना जाता है।

योग्यता – 12वीं कक्षा पास छात्राएं जिनके 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में कम से कम 75% अंक हों तथा परिवार की कुल आय 5 लाख रुपये से अधिक न हो वे आवेदन के पात्र हैं।

पुरस्कार – 60,000 रुपये प्रतिवर्ष या शिक्षण शुल्क का 60% (जो भी कम हो)। 

19. डॉ. रेड्डीज फाउंडेशन सशक्त स्कॉलरशिप

उद्देश्य – डॉ. रेड्डीज फाउंडेशन सशक्त स्कॉलरशिप विज्ञान के क्षेत्र में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए 12वीं कक्षा पास छात्राओं को तीन साल के लिए 2.4 लाख रुपए की स्कॉलरशिप राशि देती है। इस स्कॉलरशिप योजना के तहत, ग्रामीण और आर्थिक रूप से कमजोर पृष्ठभूमि वाली छात्राओं को प्राथमिकता दी जाती है। इसके लिए छात्राओं की वैज्ञानिक अनुसंधान में रुचि होनी चाहिए तथा भारत के सबसे अच्छे विज्ञान महाविद्यालयों में प्रवेश पाने के लिए सुनिश्चित होना चाहिए।

योग्यता – अच्छे अकादमिक रिकॉर्ड वाली 12वीं कक्षा पास भारतीय छात्राएं जिन्होंने शुद्ध / प्राकृतिक विज्ञान में बीएससी करना सुनिश्चित किया है, वे आवेदन की पात्र हैं।  

पुरस्कार – 2.4 लाख रुपए 3 वर्ष के लिए (80,000  रुपए प्रतिवर्ष) प्राप्त होगा, जिसमें शिक्षण शुल्क, अध्ययन व्यय और रहने का खर्च शामिल है।

20. मुस्लिम नादर गर्ल्स स्कॉलरशिप, केरल

उद्देश्यमुस्लिम नादर गर्ल्स स्कॉलरशिप केरल की ऐसी छात्राओं को वित्तीय सहायता देती है जो पिछड़े समुदाय और बीपीएल परिवारों से संबंधित हैं। स्कॉलरशिप एचएससी /वीएचएससी (HSC/VHSC) / अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में पढ़ने वाली छात्राओं दी जाती है ताकि उन्हें पढाई करने में मदद मिल सके।

योग्यता –बीपीएल परिवारों और पिछड़े समुदायों से संबंधित  केरल की छात्राएं जो एचएससी / वीएचएससी के प्रथम वर्ष में या सरकार /सरकारी सहायता प्राप्त आर्ट्स एंड साइंस कॉलेज में स्नातक पाठ्यक्रम में पढ़ रही हों, वे आवेदन की पात्र हैं।

पुरस्कार – प्रतिवर्ष 125 रुपए की वित्तीय सहायता प्राप्त होगी।

21. सीबीएसई (CBSE) उड़ान

उद्देश्यसीबीएसई उड़ान देश के प्रमुख इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश पाने के लिए इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए अध्ययन सामग्री और सप्ताह के अंत में वर्चुअल कॉन्टैक्ट क्लासेस के माध्यम से 11वीं और 12वीं कक्षा की छात्राओं को मुफ्त संसाधन प्रदान करता है। इस योजना के तहत देश के 60 शहर केंद्रों में वर्चुअल कॉन्टैक्ट क्लासेस का आयोजन किया जाता है। प्रतिभाशाली छात्राओं को परामर्श के अवसर प्रदान किए जाते हैं। छात्रों और अभिभावकों के साथ मोटिवेशनल सेशन का आयोजन किया जाता है। छात्राओं की शंकाओं को दूर करने और उनकी सीखने की प्रगति की निगरानी के लिए हेल्पलाइन सेवाएं उपलब्ध हैं। ओबीसी (एनसीएल) के लिए 27%, एससी के लिए 15%, एसटी के लिए 7.5% और पीडब्ल्यूडी के लिए 3% सीटें आरक्षित हैं।  

योग्यता –पीसीएम विषय के साथ साइंस स्ट्रीम की 11वीं और 12वीं कक्षा की मेधावी छात्राएं जो भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड / सीबीएसई से संबद्ध निजी स्कूलों केवीयस / एनवीयस / सरकारी स्कूलों में पढ़ रही हों तथा 10वीं कक्षा में कुल मिलाकर 70% तथा विज्ञान और गणित में 80% अंक, प्राप्त किये हों वे आवेदन की पात्र हैं। आवेदक की पारिवारिक वार्षिक आय 6 लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।

पुरस्कार –सप्ताह के अंत में वर्चुअल कॉन्टैक्ट क्लासेस के माध्यम से मुफ्त ऑनलाइन / ऑफ़लाइन संसाधन, अध्ययन सामग्री, ट्यूटोरियल, वीडियो, प्रतिक्रिया, मेंटरिंग के अवसर, शिक्षा को सही करने के उचित मार्गदर्शन का लाभ प्राप्त होगा। 

22. क्लिनिक प्लस स्कॉलरशिप

उद्देश्य -क्लिनिक प्लस छात्रवृत्ति 5वीं से10वीं कक्षा तक की छात्राओं को 20,000 रुपये प्रदान करती है। इस स्कॉलरशिप का लाभ उठाने के लिए, छात्राओं को दिए गए विषय पर 500 शब्दों का निबंध लिखकर भेजना होगा। यह स्कॉलरशिप कर्नाटक राज्य के मूल निवासियों के लिए है। क्लिनिक प्लस स्कॉलरशिप के लिए कुल 50 छात्राओं का चयन किया जाता है।

योग्यता –कक्षा 5वीं से 10वीं तक की छात्राएं

पुरस्कार – 20,000 रुपये

23. अभिलाषा स्कॉलरशिप

उद्देश्य ईआरओएस (EROS) ग्रुप द्वारा शुरू की गई अभिलाषा स्कॉलरशिप के तहत 9वीं से 12वीं  कक्षा तक की छात्राओं को 5000 रुपये की स्कॉलरशिप राशि प्रदान की जाती है। इस स्कॉलरशिप योजना के तहत 100 महिला उम्मीदवारों के बीच स्कॉलरशिप वितरित की जाती है। 

योग्यता – 9वीं से 12वीं  कक्षा में पढ़ने वाली छात्राएं जिन्होंने पिछली कक्षा में कम से कम 75% अंक प्राप्त किए हों व पारिवारिक वार्षिक आय 3 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।

पुरस्कार – 5000 रुपये की एकमुश्त राशि प्राप्त होगी।

24. श्रीमती गीता लोचन बालिका स्कॉलरशिप कार्यक्रम

उद्देश्य – श्रीमती गीता लोचन बालिका स्कॉलरशिप कार्यक्रम के तहत ऐसी छात्राओं को प्रति वर्ष 40,000 रुपए की स्कॉलरशिप राशि दी जाती है जो अरुणाचल यूनिवर्सिटी ऑफ़ स्टडीज से उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहती हैं। यह स्कॉलरशिप योजना उन महिला उम्मीदवारों के लिए है जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की हैं। इस स्कॉलरशिप के लिए 11 मेधावी महिला विद्यार्थियों का चयन कर स्कॉलरशिप दी जाती हैं।  

योग्यता –जिन छात्राओं ने पिछली परीक्षा में न्यूनतम 55% अंक प्राप्त किए हैं, वे आवेदन की पात्र हैं। आवेदक की पारिवारिक आय 3 लाख रुपए प्रतिवर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। छात्रवृत्ति को जारी रखने के लिए उम्मीदवारों को 80% उपस्थिति और 60% अंक बनाए रखने की आवश्यकता है।

पुरस्कार – 40,000 रुपए प्रतिवर्ष।

25. सावित्रीबाई फुले स्कॉलरशिप – महाराष्ट्र की पिछड़ी हुई छात्राओं के लिए पुरस्कार

उद्देश्य सावित्रीबाई फुले स्कॉलरशिप महाराष्ट्र की उन छात्राओं को वित्तीय सहायता देती है जो पिछड़ी जाति की हैं। स्कॉलरशिप का उद्देश्य 8वीं से 10वीं कक्षा तक की छात्राओं को बिना किसी आर्थिक बाधा के शिक्षा प्राप्त करने में मदद करना है। 

योग्यता – आवेदक 8वीं से 10वीं कक्षा में अध्ययनरत पिछड़े वर्ग की छात्रा होना चाहिए

नोट – इस स्कॉलरशिप के लिए कोई आय सीमा नहीं है।

पुरस्कार10 महीने की अवधि के लिए प्रति माह 100 रुपये की वित्तीय सहायता प्राप्त होगी।

26. टाटा हाउसिंग स्कॉलरशिप फॉर मेरिटोरियस गर्ल्स स्टूडेंट्स

उद्देश्यलड़कियों के लिए यह स्कॉलरशिप एक योग्यता-सह-साधन (मेरिट-कम-मीन्स) स्कॉलरशिप है, जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से संबंधित मेधावी छात्राओं को 60,000 रुपए तक की वित्तीय सहायता प्रदान करती है। यह टाटा हाउसिंग स्कॉलरशिप छात्राओं को एमबीए (कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट मैनेजमेंट), बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर और सिविल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में दी जाती है। 

योग्यता – भारत में किसी संबद्ध संस्थान से निर्माण परियोजना प्रबंधन में एमबीए पाठ्यक्रम के पहले वर्ष में या किसी भी 4 साल के डिग्री कोर्स जैसे बी.ई / बी.टेक / बी.आर्क में सिविल इंजीनियरिंग या आर्किटेक्चर के दूसरे वर्ष में पढ़ने वाली लड़कियां, बी.ई / बी.टेक / बी.आर्क की छात्राओं के मामले में 1 वर्ष के इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम में 50% अंक प्राप्त होने चाहिए, एमबीए छात्राओं के लिए योग्यता परीक्षा में 50% अंक प्राप्त होने चाहिए और पारिवारिक वार्षिक आय 3 लाख रुपए से कम होनी चाहिए।  

पुरस्कार- प्रवेश, ट्यूशन, पुस्तकालय, परीक्षा, पुस्तकों की खरीद आदि के खर्च के लिए, अधिकतम रूपया 60,000 तक  प्रतिपूर्ति (रिम्बर्स) की जाती है।

लाभार्थी सूची की जाँच करें

लाभार्थी सूची की जाँच करने की एक सामान्य प्रक्रिया नीचे दी गई है:

  • स्कॉलरशिप प्रोग्राम की ऑफिशिअल वेबसाइट खोलें।
  • वेबसाइट का होमपेज स्क्रीन पर खुल जाएगा।
  • अब होमपेज से लाभार्थी सूची (beneficiary list) विकल्प पर क्लिक करें।
  • आवेदन संख्या, जन्म तिथि आदि जैसे विवरण भरें।
  • अब विवरण प्राप्त करें (get details) विकल्प पर क्लिक करें।

क्या करना चाहिए, क्या नहीं करना चाहिए 

  • सबसे पहले आप जिस स्कॉलरशिप स्कीम के लिए अप्लाई करना चाहते हैं, उसे चेक करें।
  • छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने से पहले पात्रता की जांच करें।
  • आवश्यक दस्तावेज का विवरण प्राप्त करें और आवेदन करने से पहले उन्हें तैयार रखें।
  • छात्रवृत्ति पंजीकरण के लिए एक सक्रिय ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर तैयार रखें।
  • छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि का इंतजार न करें।
  • अंतिम रूप से सबमिट करने से पहले दस्तावेजों और आवेदन पत्र के विवरण को ध्यान से देखें।

You may also like

Leave a Comment