Home छात्रवृत्ति समाज कल्याण छात्रवृत्ति – यूपी, राजस्थान और उतराखंड
Samaj Kalyan Scholarship

समाज कल्याण छात्रवृत्ति – यूपी, राजस्थान और उतराखंड

by Shruti Pandey

समाज कल्याण छात्रवृत्ति, विभिन्न राज्यों के समाज कल्याण विभागों द्वारा दी जाती है जो प्री-मैट्रिक और पोस्ट-मैट्रिक स्तर की पढाई करने वाले छात्रों की जरूरतों को पूरा करती है। समाज कल्याण स्कॉलरशिप योजना के अंतर्गत, जरूरतमंद और योग्य उम्मीदवारों को आर्थिक मदद प्रदान किया जाता है ताकि वे आर्थिक परेशानियों के कारण पढाई छोड़े बिना अपनी पढाई पूरी कर सकें। उत्तर प्रदेश (यूपी), राजस्थान और उत्तराखंड राज्यों में शिक्षा के विभिन्न स्तरों पर पढाई करने वाले विभिन्न कैटेगरी के छात्रों को स्कॉलरशिप दी जाती है।Scholarship Registration, Get Scholarship Update

इस लेख में  हमने यूपी, राजस्थान और उत्तराखंड के छात्रों को दिए जाने वाले सभी समाज कल्याण स्कॉलरशिप के विवरण को शामिल किया है। इन विवरणों में स्कॉलरशिप की सूची, एप्लीकेशन की अवधि, पुरस्कार, योग्यता, एप्लीकेशन की प्रक्रिया इत्यादि को शामिल किया गया है।

समाज कल्याण छात्रवृत्ति – उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश सरकार का समाज कल्याण विभाग उन छात्रों को प्री-मैट्रिक और पोस्ट-मैट्रिक स्तर पर समाज कल्याण स्कॉलरशिप प्रदान करता है  जो समाज के वंचित वर्ग के हैं और अपनी पढाई जारी रखना चाहते हैं। नीचे दी गई तालिका में पुरस्कार, एप्लीकेशन की अवधि और योग्यता मानदंड के साथ विभाग द्वारा दी जाने वाली स्कॉलरशिप के बारे में उल्लेख किया गया है जो स्कॉलरशिप का लाभ प्राप्त करने के लिए जरुरी हैं।

उत्तर प्रदेश राज्य के समाज कल्याण स्कॉलरशिप की मुख्य विशेषताएं

क्र.सं. स्कॉलरशिप का नाम पुरस्कार एप्लीकेशन की अवधि*          योग्यता
1 एसटी / एससी / जनरल श्रेणी के लिए प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप, उत्तर  प्रदेश परिवर्तनीय वित्तीय पुरस्कार जुलाई से सितंबर कक्षा 9 और 10 के छात्रों के लिए लागू

छात्र को एसटी, एससी या सामान्य वर्ग से संबंधित होना चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 1 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए

2 एसटी / एससी / जनरल श्रेणी के लिए पोस्ट मैट्रिक इंटरमीडिएट स्कॉलरशिप, उत्तर प्रदेश परिवर्तनीय वित्तीय पुरस्कार जुलाई से नवंबर कक्षा 11 और 12 के छात्रों के लिए लागू

छात्र को एसटी, एससी या सामान्य वर्ग से संबंधित होना चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए

3 एसटी, एससी, जनरल श्रेणी के लिए पोस्ट मैट्रिक (इंटरमीडिएट के  अलावा) स्कॉलरशिप, उत्तर प्रदेश परिवर्तनीय वित्तीय पुरस्कार जुलाई से नवंबर स्नातक, स्नातकोत्तर, पीएचडी या उच्च स्तर पर अध्ययन कर रहे छात्रों के लिए लागू

एससी, एसटी, जनरल वर्ग से संबंधित होना चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए

4 एसटी, एससी, जनरल श्रेणी के लिए पोस्ट मैट्रिक अन्य राज्य स्कॉलरशिप, उत्तर प्रदेश परिवर्तनीय वित्तीय पुरस्कार जुलाई से नवंबर कक्षा 11 या उससे ऊपर के छात्र

छात्र को एससी, एसटी, जनरल वर्ग से संबंधित होना चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए

* ऊपर दी गयी एप्लीकेशन की अवधि अस्थायी है और स्कॉलरशिप प्रदाता के निर्णय के अनुसार बदल सकती है।

समाज कल्याण छात्रवृत्ति उत्तर प्रदेश – एप्लीकेशन प्रक्रिया

छात्रों के लिए एप्लीकेशन प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए  उत्तर प्रदेश सरकार छात्रों को समाज कल्याण स्कॉलरशिप के लिए सक्षम नाम से अपनी स्कॉलरशिप और फीस रिंबर्समेंट ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से ऑनलाइन अप्लाई करने की अनुमति देती है। छात्र निर्धारित समय सीमा के भीतर इस ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से उस स्कॉलरशिप के लिए अप्लाई कर सकते हैं जिसके लिए वे योग्य हैं।

अधिक जानकारी के लिए यह भी पढ़ें, यूपी स्कॉलरशिप – पुरस्कार, योग्यता, एप्लीकेशन प्रक्रिया।

समाज कल्याण छात्रवृत्ति – राजस्थान

समाज कल्याण स्कॉलरशिप सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग राजस्थान सरकार द्वारा दी जाती है जो राज्य के वंचित छात्रों को आर्थिक मदद प्रदान करती है। इस विभाग के माध्यम से  विभिन्न शैक्षिक स्तरों पर अध्ययन करने वाले सभी जरूरतमंद और योग्य छात्रों को आर्थिक मदद प्रदान किया जाता है ताकि वे अपनी शिक्षा जारी रख सकें। नीचे दिया गया टेबल आपको राजस्थान के सामाजिक न्याय विभाग द्वारा दिए जाने वाले प्रत्येक समाज कल्याण स्कॉलरशिप के बारे में जानकारी प्रदान करता है।

राजस्थान के समाज कल्याण स्कॉलरशिप की मुख्य विशेषताएं

क्र.सं. स्कॉलरशिप का नाम पुरस्कार एप्लीकेशन की अवधि* योग्यता
1 एससी / एसटी / एसबीसी के लिए पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप, राजस्थान नॉन-रिफंडेबल फीस और मेंटेनेंस भत्ता दिसंबर से जनवरी उम्मीदवार को राजस्थान का स्थायी निवासी होना चाहिए

छात्र को एससी, एसटी या एसबीसी (विशेष पिछड़ा वर्ग) केटेगरी से संबंधित होना चाहिए

सरकारी / मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान में अध्यनरत होना चाहिए

पोस्ट मैट्रिक स्तर पर मान्यता प्राप्त पाठ्यक्रमों को करना चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 2.5 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए

2 ओबीसी के लिए पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप, राजस्थान नॉन-रिफंडेबल फीस और मेंटेनेंस भत्ता दिसंबर से जनवरी उम्मीदवार के पास राजस्थान का अधिवास होना चाहिए

छात्र को ओबीसी श्रेणी से संबंधित होना चाहिए

सरकारी / मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान में अध्यनरत होना चाहिए

पोस्ट मैट्रिक स्तर पर मान्यता प्राप्त पाठ्यक्रमों को करना चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 1 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए

3 ईबीसी छात्रों के लिए डॉ. अंबेडकर पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप, राजस्थान मेंटेनेंस भत्ता दिसंबर से जनवरी ईबीसी श्रेणी और राजस्थान के स्थायी निवासी से संबंधित छात्रों के लिए लागू

परिवार की वार्षिक आय 1 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए

कक्षा 11 से स्नातकोत्तर तक की पढ़ाई जारी रखनी चाहिए

4 डीएनटी के लिए डॉ. अम्बेडकर पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप, राजस्थान मेंटेनेंस भत्ता NA राजस्थान के स्थायी निवासी, अनुसूचित, खानाबदोश और अर्ध-खानाबदोश जनजातियों (डीएनटी) से संबंधित छात्रों के लिए लागू

परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए

सरकारी / मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान में अध्यनरत होना चाहिए

पोस्ट-मैट्रिक स्तर पर शिक्षा जारी रखनी चाहिए, अर्थात कक्षा 11 से स्नातकोत्तर तक

5 मुख्यमंत्री सर्वजन उच्च शिक्षा छात्रवृति योजना, राजस्थान कुल नॉन-रिफंडेबल फीस का 50% NA राजस्थान के अधिवास वाले छात्रों के लिए लागू

रेगुलर छात्र के रूप में टॉप स्तर के राष्ट्रीय संस्थानों में पढाई करनी चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 5 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए

* ऊपर दी गयी एप्लीकेशन की अवधि अस्थायी है और स्कॉलरशिप प्रदाता के निर्णय के अनुसार बदल सकती है।Scholarship Registration, Get Scholarship Update

समाज कल्याण छात्रवृत्ति राजस्थान – एप्लीकेशन प्रक्रिया

महत्वाकांक्षी उम्मीदवारों के लिए एप्लीकेशन प्रक्रिया को आसान और सरल बनाने के लिए, राजस्थान का सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग छात्रों को राजस्थान ऑनलाइन स्कॉलरशिप सिस्टम (आरओएसई) के माध्यम से स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन अप्लाई करने की अनुमति देता है। पोर्टल छात्र को अपनी मन पसंद की स्कॉलरशिप के लिए अप्लाई करने के लिए सभी आवश्यक जानकारी प्रदान करता है

स्कॉलरशिप के बारे में और अधिक जानने के लिए राजस्थान स्कॉलरशिप की संपूर्ण सूची, योग्यता, एप्लीकेशन प्रक्रिया और पुरस्कार को पढ़ें।

समाज कल्याण छात्रवृत्ति – उत्तराखंड

समाज कल्याण विभाग उत्तराखंड सरकार द्वारा चलायी जाने वाली समाज कल्याण स्कॉलरशिप वंचित छात्रों को आर्थिक परेशानियों के बारे में चिंता किए बिना शिक्षा को हासिल करने में सक्षम बनाती है। विभिन्न कैटेगरी से संबंधित उम्मीदवार समाज कल्याण स्कॉलरशिप योजना के तहत स्कॉलरशिप का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। नीचे दी गयी तालिका में समाज कल्याण विभाग उत्तराखंड द्वारा दी जाने वाली सभी स्कॉलरशिप के पुरस्कार, एप्लीकेशन की अवधि और योग्यता शर्तों का उल्लेख किया गया है।

उत्तराखंड के समाज कल्याण स्कॉलरशिप की प्रमुख विशेषताएं

क्र.सं. स्कॉलरशिप का नाम पुरस्कार एप्लीकेशन की अवधि* योग्यता
1 ओबीसी छात्रों के लिए पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप, उत्तराखंड  हॉस्टलर्स के लिए हर महीने 750 रुपये तक

डे स्कॉलर्स के लिए हर महीने 350 रुपये तक

 अक्टूबर से नवंबर कक्षा 11 या उससे ऊपर की पढ़ाई करने वाले छात्र

छात्र को ओबीसी श्रेणी से संबंधित होना चाहिए

अंतिम योग्यता परीक्षा उत्तीर्ण की होनी चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 1 लाख रुपये से कम होनी चाहिए

2 एससी / एसटी छात्रों के लिए पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप, उत्तराखंड  हॉस्टलर्स के लिए हर महीने 1200  रुपये तक

डे स्कॉलर्स के लिए हर महीने 550 रुपये तक

 अक्टूबर से नवंबर कक्षा 11 वीं के बाद की पढ़ाई करने वाले छात्र

छात्र को एससी / एसटी केटेगरी से संबंधित होना चाहिए

अंतिम योग्यता परीक्षा पास होना चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 2.5 लाख रुपये से कम होनी चाहिए

3 एससी / एसटी छात्रों (राज्य / केंद्र क्षेत्र) के लिए प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप, उत्तराखंड  कक्षा 1 से 5 तक के छात्रों के लिए 600 रुपये हर साल

कक्षा 6 से 8 तक के छात्रों के लिए 720 रुपये हर साल

कक्षा 9 से 10 (डे स्कॉलर्स) तक के छात्रों के लिए 1,500 रुपये हर साल

कक्षा 9 से 10 (हॉस्टलर्स) तक के छात्रों के लिए 3,500 रुपये  हर साल

 अक्टूबर से नवंबर कक्षा 1 से 10 तक के छात्रों के लिए लागू

छात्र को एससी / एसटी केटेगरी से संबंधित होना चाहिए

अंतिम योग्यता परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए

कक्षा 9 और 10 के छात्रों के लिए पारिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से कम होनी चाहिए

कक्षा 1 से 8 तक के छात्रों के लिए कोई आय सीमा नहीं

4 ओबीसी छात्रों (राज्य और केंद्र क्षेत्र) के लिए प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप, उत्तराखंड  कक्षा 3 से 5 तक के छात्रों के लिए हर साल 600 रुपये

कक्षा 6 से 8 तक के छात्रों के लिए हर साल 720 रुपये

कक्षा 9 से 10 तक के छात्रों के लिए हर साल 1,000 रुपये

 अक्टूबर से नवंबर कक्षा 1 से 10 तक के छात्रों के लिए लागू

छात्र को ओबीसी केटेगरी से संबंधित होना चाहिए

अंतिम योग्यता परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 44,500 रुपये से कम होनी चाहिए

5 प्री-मैट्रिक डिसएबिलिटी स्कॉलरशिप (स्टेट सेक्टर), उत्तराखंड  कक्षा 1 से 5 तक के छात्रों के लिए 600 रुपये हर साल

कक्षा 6 से 8 तक के छात्रों के लिए 960 रुपये हर साल

कक्षा 9 से 10 तक के छात्रों के लिए 1,700 रुपये हर साल

 अक्टूबर से नवंबर विकलांग और कक्षा 1 से 10 तक की पढ़ाई करने वाले छात्रों के लिए लागू

उत्तराखंड में या उत्तराखंड से बाहर किसी मान्यता प्राप्त स्कूल में अध्यनरत होना चाहिए

अंतिम योग्यता परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए

परिवार की वार्षिक आय 24,000 रुपये से कम होनी चाहिए

6 ईबीसी छात्रों के लिए पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप, उत्तराखंड  10 महीने की अवधि के लिए हर महीने 750 रुपये तक मेंटेनेंस भत्ता, अनिवार्य गैर-वापसी योग्य शुल्क और अन्य लाभों के लिए रिंबर्समेंट  अक्टूबर से नवंबर सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त किसी संस्थान में पोस्ट-मैट्रिक स्तर (कक्षा 11 से पोस्ट डॉक्टोरल स्तर पर) की पढ़ाई करने वाले छात्रों के लिए लागू

परिवार की वार्षिक आय 1 लाख रुपये से कम होनी चाहिए

छात्र को ईबीसी श्रेणी से संबंधित होना चाहिए

दूरस्थ शिक्षा या पत्राचार वाले छात्र भी पात्र हैं

7 माइनॉरिटी के लिए प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम  (100 प्रतिशत राज्य क्षेत्र), उत्तराखंड  कक्षा 1 से 5 तक के छात्रों के लिए 12 महीने तक 50 रुपये हर महीने

कक्षा 6 से 8 तक के छात्रों के लिए 12 महीने तक 80 रुपये हर महीने

कक्षा 9 से 10 तक के छात्रों के लिए 12 महीने तक 120 रुपये हर महीने

 अक्टूबर से नवंबर छात्र को माइनॉरिटी क्लास (ईसाई, मुस्लिम, जैन, पारसी, सिख, बौद्ध) से संबंधित होना चाहिए

छात्र को कक्षा 1 से 10 तक में अध्यनरत होना चाहिए

अंतिम योग्यता परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए

परिवार की वार्षिक आय गरीबी रेखा से नीचे के वर्तमान आय स्लैब के दोगुने से कम होनी चाहिए

* ऊपर दी गयी एप्लीकेशन की अवधि अस्थायी है और स्कॉलरशिप प्रदाता के निर्णय के अनुसार बदल सकती है।

समाज कल्याण छात्रवृत्ति उत्तराखंड – एप्लीकेशन प्रक्रिया

अब जब आप समाज कल्याण विभाग उत्तराखंड द्वारा दी जाने वाली समाज कल्याण स्कॉलरशिप योजना के बारे में जानकारी प्राप्त कर चुके हैं  तो अब आप एप्लीकेशन प्रक्रिया के बारे में जानने के लिए उत्सुक होंगे। एप्लीकेशन प्रक्रिया काफी सरल और आसान है। उम्मीदवार ऊपर दिए गए सभी उत्तराखंड स्कॉलरशिप के लिए आधिकारिक नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं।

स्कॉलरशिप के बारे में और अधिक जानने के लिए ‘उत्तराखंड स्कॉलरशिप – संपूर्ण सूची, प्रमुख तिथियाँ, योग्यता’ को पढ़ें

(Visited 6,704 times, 5 visits today)

You may also like

Leave a Comment