Home छात्रवृत्ति एनएमएमएस – नेशनल मीन्स-कम-मेरिट स्कॉलरशिप के बारे में सब कुछ जानें
NMMS – National Means-Cum-Merit Scholarship

एनएमएमएस – नेशनल मीन्स-कम-मेरिट स्कॉलरशिप के बारे में सब कुछ जानें

by Shruti Pandey
Reading Time: 6 minutes

एनएमएमएस – नेशनल  मीन्स-कम-मेरिट स्कॉलरशिप एक केंद्र प्रायोजित स्कॉलरशिप योजना है। यह मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तहत स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग द्वारा समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के मेधावी छात्रों को आर्थिक रूप से सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से कार्यान्वित किया गया है। एनएमएमएस हर वर्ष 12,000 रुपये की स्कॉलरशिप राशि दे करके वंचित छात्रों को माध्यमिक स्तर पर अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए प्रोत्साहित करता है। यह एमसीएम स्कॉलरशिप हर साल नवंबर के महीने के दौरान शुरू की जाती है और लगभग 100,000 स्कॉलरशिप मेधावी छात्रों के बीच वितरित की जाती है।Scholarship Registration, Get Scholarship Update

एनएमएमएस (नेशनल मीन्स-कम-मेरिट स्कॉलरशिप) के मुख्य विशेषताओं के बारे में नीचे देखें।

एनएमएमएस की मुख्य विशेषताएं

क्र.सं. विशेष विवरण
1 वैकल्पिक कक्षा 8 में छात्रों की ड्रॉपआउट दर को प्राप्त करना और उन्हें  माध्यमिक स्तर पर अपनी शिक्षा जारी रखने के लिए प्रोत्साहित करना
2 पुरस्कार  रूपया 12,000 प्रति वर्ष
3 योग्यता कक्षा 8 की अंतिम परीक्षा में 55% अंकों के साथ कक्षा 9 के नियमित छात्र
4 एप्लीकेशन की अवधि *  जुलाई  से  नवंबर
5 एप्लीकेशन प्रक्रिया आधिकारिक सरकारी पोर्टल एनएसपी के माध्यम से

* ऊपर दी गयी एप्लीकेशन की अवधि अस्थायी है और स्कॉलरशिप प्रदाता के निर्णय के अनुसार परिवर्तन के अधीन है।

अब, एनएमएमएस के पूर्ण विवरण के बारे में नीचे पढ़ें और स्कॉलरशिप का लाभ उठायें।

एनएमएमएसउद्देश्य

मई 2008 में आरंभ  की गई, एनएमएमएस   स्कॉलरशिप का उद्देश्य मेधावी और वंचित छात्रों को माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक शिक्षा को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित  करना है ताकि कक्षा 8 के बाद स्कूलों से ड्रॉपआउट दर में सुधार हो सके। हर साल, कक्षा 9 से 12 तक के छात्र नेशनल मीन्स-कम-मेरिट स्कॉलरशिप का लाभ प्राप्त करने के लिए राज्य स्तर पर चयन परीक्षा के दो स्तरों के लिए शामिल होते हैं।

एनएमएमएसपुरस्कार

एनएमएमएस, चुने गए छात्रों को रूपया 12,000 प्रति वर्ष, अर्थात रूपया 1,000 प्रति माह की दर से प्रत्येक वर्ष कुल 100,000 स्कॉलरशिप देती है। नेशनल मीन्स-कम-मेरिट स्कॉलरशिप के तहत, स्कॉलरशिप राशि का भुगतान एक बार में ही भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) द्वारा किया जाता है। राशि सीधे सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली (PFMS) के माध्यम से छात्रों के खातों में स्थानांतरित की जाती है। प्रत्येक राज्य और केन्द्र शासित प्रदेशों को आवंटित स्कॉलरशिप की संख्या, कक्षा 7 और 8 में छात्रों के नामांकन और संबंधित राज्यों में उनकी आबादी के आधार पर की जाती है। एनएमएमएस  राशि का विवरण नीचे दिया गया है।

  • कक्षा 9 के छात्रों को एक शैक्षणिक वर्ष के लिए एक बार में पूरी स्कॉलरशिप राशि, यानी रूपया 12,000 प्रति वर्ष दी जाती है।
  • स्कॉलरशिप का नवीनीकरण (रिन्यूअल) हर साल तब तक किया जाता है जब तक कि छात्र अपनी उच्चतर शिक्षा का स्तर (12 वीं कक्षा) पूरा नहीं कर लेता है, बशर्ते कि उम्मीदवार को हर साल उच्च कक्षा में स्पष्ट दाखिला मिलती रहे।Scholarship Registration, Get Scholarship Update

एनएमएमएसमहत्वपूर्ण तिथियाँ

यह एमसीएम स्कॉलरशिप सामान्यतः प्रत्येक वर्ष जुलाई के महीने के दौरान घोषित की जाती है और इसकी समाप्त होने की तिथि अक्टूबर के महीने में होती है। इस एप्लीकेशन की अवधि अस्थायी होती है क्योंकि यह हर साल बदलती रहती है। यह स्कॉलरशिप प्रदाता के निर्णय के अनुसार अगले वर्ष बदल सकता है।

यह भी जरूर पढ़ें: सरकारी छात्रवृत्ति – भारत सरकार द्वारा केंद्र सरकार की स्कॉलरशिप्स

एनएमएमएसपात्रता मानदंड

यह केवल भारत के मेधावी और जरूरतमंद छात्रों को दी जाती है, यह एमसीएम छात्रवृत्ति योजना सभी आवेदकों से अपेक्षा करती है कि छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए आयोजित चयन परीक्षा के लिए पात्र होने के लिए नीचे दिए गए पात्रता शर्तों को पूरा करें।

  • जो उम्मीदवार इस एमसीएम स्कॉलरशिप के लिए एप्लीकेशन करना चाहते हैं, उन्हें कम से कम 55% या समकक्ष ग्रेड के स्कोर के साथ कक्षा 8 पास होने के बाद कक्षा 9 में अध्ययनरत रेगुलर छात्र होना चाहिए।
  • उम्मीदवारों को सरकारी या स्थानीय निकाय या सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों से शिक्षा प्राप्त करनी चाहिए।
  • उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में स्कॉलरशिप जारी रखने के लिए, उम्मीदवार को कक्षा 10 वीं की बोर्ड परीक्षा में कम से कम 60% अंक प्राप्त करने चाहिए।
  • कक्षा 12वीं में स्कॉलरशिप जारी रखने के लिए, स्कॉलरशिप पुरस्कार विजेता को 55% अंकों या समकक्ष स्कोर के साथ पहले ही प्रयास में कक्षा 11 में स्पष्ट रूप से पास होने चाहिए। एससी / एसटी वर्ग से संबंधित छात्रों के लिए अंक में 5% की छूट दी गई है।
  • उम्मीदवारों की वार्षिक पारिवारिक आय रूपया 5 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • इसके अलावा, वे छात्र जो एनवीएस, केवीएस, सैनिक स्कूलों और निजी स्कूलों में नामांकित हैं, वे इस एमसीएम स्कॉलरशिप के लिए पात्र नहीं होंगे।

एनएमएमएसएप्लीकेशन प्रक्रिया

अगर आप एनएमएमएस  के लिए एप्लीकेशन करना चाहते हैं, तो आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप इस एमसीएम स्कॉलरशिप के लिए सभी पात्रता शर्तों को पूरा करें। उसके बाद, आवेदक एनएसपी के माध्यम से स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन कर सकते हैं। छात्रों को बिना किसी कठिनाई के अपने एनएमएमएस  स्कॉलरशिप फॉर्म को पूरा करने में मदद करने के लिए नीचे चरण दर चरण एप्लीकेशन गाइडलाइन दिए गए हैं।

  • सबसे पहले, आवेदकों को सभी सही जानकारी भरकर एक नए यूजर के रूप में नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल (एनएसपी) पर रजिस्टर करना होगा।
  • जो उम्मीदवार स्कॉलरशिप के लिए एप्लीकेशन कर रहे हैं, उन्हें सलाह दी जाती है कि वे एप्लीकेशन प्रक्रिया शुरू करते समय सभी संबंधित डॉक्यूमेंट्स की स्कैन की हुई प्रतियां अपने पास रखें।
  • एप्लीकेशन करने वाले उम्मीदवार द्वारा शैक्षणिक योग्यता, आधार कार्ड नंबर, स्कूल नामांकन संख्या, बैंक का विवरण और राज्य अधिवास जैसी जानकारी को भरना आवश्यक है।
  • एनएसपी पर रजिस्टर करने पर उम्मीदवार की एक एप्लीकेशन आईडी प्राप्त होती है। इस एप्लिकेशन आईडी का उपयोग एनएसपी पर ‘लॉगिन आईडी’ के रूप में और भविष्य में जानकारी प्राप्त करने के लिए किया जाता है।
  • आवेदक जो कक्षा 9 और 10 वीं की पढ़ाई कर रहा है, उसे प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप श्रेणी के तहत एप्लीकेशन करने की आवश्यकता है, जबकि उम्मीदवार जो कक्षा 11 और 12 वीं में पढ़ रहा है, को पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप श्रेणी के तहत एप्लीकेशन करने की आवश्यकता है।
  • आवेदक का नाम, जन्म तिथि, ईमेल आईडी, पहचान विवरण और मोबाइल नंबर जैसी जानकारियों को भरते समय आवेदक को सावधान रहना चाहिए।
  • सभी आवश्यक डॉक्यूमेंट्स अपलोड करें और विवरण को ड्राफ्ट के रूप में सेव करें।
  • यह सुनिश्चित करने के बाद कि सभी भरी हुई जानकारी सही और उपयुक्त है, उम्मीदवार को भरे हुए एप्लीकेशन फॉर्म को अंत में सबमिट करने की आवश्यकता होती है।

एनएमएमएसचयन मानदंड

हालाँकि एनएमएमएस  केंद्र सरकार की स्कॉलरशिप योजना है, लेकिन इसके लिए चयन परीक्षा प्रत्येक राज्य या केन्द्र शासित प्रदेशों द्वारा अपने संबंधित छात्रों के लिए आयोजित की जाती है। इन परीक्षाओं में एक मानसिक क्षमता परीक्षा (मेन्टल एबिलिटी टेस्ट) और एक शैक्षिक योग्यता परीक्षा (स्कॉलैस्टिक एप्टीट्यूड टेस्ट) शामिल हैं जिनके दिशानिर्देश एनसीईआरटी द्वारा निर्धारित किए गए हैं। आवेदकों को प्रत्येक परीक्षा 90 मिनट की अधिकतम समय सीमा में पूरी करनी होगी। हालांकि, विशेष क्षमताओं के बच्चों को परीक्षाओं को पूरा करने के लिए कुछ अतिरिक्त समय दिया जाता है। इस राज्य स्तरीय परीक्षा टेस्ट के बारे में विवरण नीचे दिए गए हैं।

एनएमएमएस का सेलेक्शन मानदंड

क्र.सं. विशेष विवरण
1 मानसिक क्षमता परीक्षा (मैट)
  • यह परीक्षा 90 बहुविकल्पीय प्रश्नों के माध्यम से छात्रों की तर्क क्षमता और महत्वपूर्ण सोच को परखती है।
  • अधिकांश प्रश्न समरूपता, वर्गीकरण, संख्यात्मक श्रृंखला, पैटर्न धारणा, छिपी हुई आकृतियों आदि जैसे विषयों पर आधारित हो सकते हैं।
2 शैक्षिक योग्यता टेस्ट (सैट)
  • सैट में 90 बहुविकल्पीय प्रश्न होते हैं।
  • सैट के पाठ्यक्रम में  कक्षा 7 और 8 के पाठ्यक्रम के अनुसार विज्ञान, सामाजिक अध्ययन और गणित के विषयों को शामिल किया गया है।

एनएमएमएस परिणाम की घोषणा

एक बार जब छात्र चयन परीक्षा में शामिल हो जाते हैं, तो प्रत्येक राज्य उन छात्रों की सूची घोषित करता है, जिन्होंने प्रत्येक परीक्षा में कम से कम 40% अंकों के साथ मैट और सैट उत्तीर्ण किया है। एनएमएमएस के लिए छात्रों की अंतिम सूची का चयन करते समय जिन स्थितियों पर विचार किया जाता है, वे नीचे दिए गए हैं।

  • नियमों के अनुसार, आवेदकों को प्रत्येक परीक्षाओं में अर्थात्, मैट और सैट में कम से कम 40% अंक प्राप्त करने चाहिए। हालांकि, आरक्षित श्रेणियों के लिए अंकों में छूट है। इनके लिए इस एमसीएम स्कॉलरशिप का स्कॉलरशिप लाभ पाने के लिए कटऑफ अंक 32% है।
  • इसके अलावा, आवेदकों को कक्षा 8 की अंतिम परीक्षा में कम से कम 55% अंक पाने चाहिए। एससी / एसटी  वर्ग के छात्रों के लिए अंकों में 5% की छूट है।
  • उम्मीदवारों को एनएमएमएस  के लाभों का फायदा उठाने के लिए सभी पात्रता शर्तों को पूरा करना जरुरी है।

    Scholarship Registration, Scholarship Status, Find New Scholarship

यदि आप एनएमएमएस  जैसी और स्कॉलरशिप की तलाश कर रहे हैं, तो ‘एनटीएसई राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा (नेशनल टैलेंट सर्च एग्जामिनेशन) को पढ़ें।

इसके अलावा,  मीन्स स्कॉलरशिपआप सभी को जानना जरुरी है को भी पढ़ें, उन स्कॉलरशिप्स के बारे में जानने के लिए जिससे समाज के उपेक्षित और वंचित छात्रों को लाभ मिल सकता है।

(Visited 2,025 times, 1 visits today)

You may also like

Leave a Comment