Home छात्रवृत्ति ओबीसी स्कॉलरशिप 2022 – ओबीसी विद्यार्थियों के लिए स्कॉलरशिप की सूची, पात्रता, आवेदन प्रक्रिया
OBC Scholarship 2022 - Scholarship for OBC Students, List and Eligibility

ओबीसी स्कॉलरशिप 2022 – ओबीसी विद्यार्थियों के लिए स्कॉलरशिप की सूची, पात्रता, आवेदन प्रक्रिया

by Sadhana Soni

ओबीसी स्कॉलरशिप (OBC Scholarship 2022) – ओबीसी वर्ग (अन्य पिछड़ा वर्ग) से संबंधित विद्यार्थियों को ओबीसी स्कॉलरशिप प्रदान की जाती है। इसका मुख्य उद्देश्य आर्थिक रूप से पिछड़े, लेकिन मेधावी विद्यार्थियों के लिए बेहतर शैक्षिक अवसर और वित्तीय सहायता प्रदान करना है, इसलिए इस स्कॉलरशिप को मैरिट कम मीन्स स्कॉलरशिप के रूप में भी जाना जाता है। ओबीसी स्कॉलरशिप OBC Scholarship आर्थिक रूप से कमजोर पृष्ठभूमि के विद्यार्थियों के लिए एक वरदान है, जो विद्यार्थियों को अपनी शिक्षा में आ रही आर्थिक बाधाओं को दूर करने में उनकी मदद करता है। ऐसी कई स्कॉलरशिप मुख्य रूप से ओबीसी OBC विद्यार्थियों को ध्यान में रखकर बनाई गई हैं। 

ओबीसी OBC विद्यार्थियों के लिए 6 प्रकार की स्कॉलरशिप राज्य या केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की जाती है। प्रत्येक स्कॉलरशिप के तहत सीमित संख्या में सीटें हैं। इसके अलावा, इनमें से कुछ स्कॉलरशिप हेतु पात्र होने के लिए विशिष्ट मानदंडों की आवश्यकता होती है। हालांकि, ये शर्तें अनिश्चित हैं इन्हें संबंधित प्राधिकारी की सुविधा के अनुसार बिना किसी पूर्व सूचना के बदला जा सकता है।

Table of Contents

ओबीसी स्कॉलरशिप – सूची (OBC Scholarship – List)

ओबीसी OBC उम्मीदवारों को प्रदान की जाने वाली स्कॉलरशिप की सूची निम्नलिखित है:

स्कॉलरशिप का नाम प्रदान करने वाले प्राधिकरण स्कॉलरशिप की संख्या आवेदन अवधि (अस्थायी)
सेंटर सेक्टर  स्कीम  फॉर  नेशनल ओवरसीज गवर्नमेंट 25 जुलाई से अक्टूबर
मैरिट  स्कॉलरशिप  फॉर  ओबीसी  स्टूडेंट्स  (दिल्ली) दिल्ली गवर्नमेंट मार्च से अप्रैल
नेशनल  फैलोशिप  फॉर ओबीसी गवर्नमेंट 1000 जुलाई से अगस्त
अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग/अल्पसंख्यक विद्यार्थियों को डॉ बी.आर.अम्बेडकर राज्य पुरस्कार, दिल्ली  राज्य सरकार दिल्ली मार्च से अप्रैल
ओएनजीसी  स्कॉलरशिप गवर्नमेंट 1000 सितम्बर से अक्टूबर
पोस्ट- मैट्रिक  स्कॉलरशिप ऑल-स्टेट गवर्नमेंट्स सितम्बर से दिसंबर
प्री- मैट्रिक  स्कॉलरशिप ऑल-स्टेट गवर्नमेंट्स सितम्बर से दिसंबर

*नोट: उपरोक्त तालिका में प्रदान की गई आवेदन अवधि अस्थायी है, जो प्रदाता के निर्णय पर बदल सकती है।

यह भी जरूर पढ़ें: नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल (NSP) 2022 – Registration, Login and Application Status

राष्ट्रीय प्रवासी के लिए केंद्रीय क्षेत्र की योजना (सेंट्रल  सेक्टर  स्कीम  फॉर  नेशनल  ओवरसीज)

सेंट्रल  सेक्टर  स्कीम  फॉर  नेशनल  ओवरसीज उन ओबीसी OBC उम्मीदवारों के लिए एक स्कॉलरशिप है जो विदेशी विश्वविद्यालय में मास्टर डिग्री या पीएचडी करना चाहते हैं। उम्मीदवार चिकित्सा और इंजीनियरिंग जैसे व्यावसायिक पाठ्यक्रमों से लेकर प्रबंधन और कृषि तक के क्षेत्र में अध्ययन कर सकते हैं। प्रतिवर्ष 25 स्कॉलरशिप प्रति विषय प्रदान की जाती हैं, और उनमें से 30% महिला उम्मीदवारों को आवंटित की जाती हैं।

मास्टर्स डिग्री कर रहे उम्मीदवारों को 3 साल की फैलोशिप जबकि पीएचडी. उम्मीदवारों को 4 साल की फैलोशिप की पेशकश की जाती है। अतिरिक्त लाभों में वीज़ा शुल्क प्रतिपूर्ति, विमान किराया, स्थानीय यात्रा के लिए भत्ता और घटना यात्रा भत्ता शामिल हैं। 

सेंट्रल  सेक्टर  स्कीम  फॉर  नेशनल  ओवरसीज – पात्रता मानदंड

  • पीएचडी या मास्टर्स कर रहे उम्मीदवार आवेदन करने के पात्र हैं।
  • उम्मीदवार को अपने पिछले पाठ्यक्रम में न्यूनतम 60% अंक प्राप्त करने चाहिए।
  • उम्मीदवारों की आयु 35 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार की  पारिवारिक वार्षिक आय सभी स्रोतों को मिलाकर 3 लाख रुपए से कम होनी चाहिए।

प्रति विषय उपलब्ध स्कॉलरशिप की संख्या

  • कृषि विज्ञान उपलब्ध स्कॉलरशिप – 6
  • इंजीनियरिंग कोर्स उपलब्ध स्कॉलरशिप – 7
  • प्रबंधन पाठ्यक्रम उपलब्ध स्कॉलरशिप – 6
  • मेडिसिन कोर्स उपलब्ध स्कॉलरशिप – 6

स्कॉलरशिप के पुरस्कार

  • संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए वार्षिक रखरखाव भत्ता – 15,400 यूएसडी + किताबों के लिए 1500 यूएसडी अतिरिक्त
  • यूनाइटेड किंगडम के लिए वार्षिक रखरखाव भत्ता – 9,900 जीबीपी+ किताबों के लिए 1100 जीबीपी अतिरिक्त
  • संयुक्त राज्य अमेरिका में वार्षिक अनुसंधान भत्ता – 1,560 यूएसडी
  • यूनाइटेड किंगडम में वार्षिक अनुसंधान भत्ता – 2,400 जीबीपी

ओबीसी स्कॉलरशिप आवेदन प्रक्रिया

  • उम्मीदवारों को सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार से आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।
  • इसके बाद आवश्यक विवरण भरें और आवेदन में उल्लिखित सम्बंधित दस्तावेज संलग्न करें।
  • सभी आवश्यक प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद इसे मंत्रालय को भेजें। उम्मीदवार यदि किसी संस्थान में कार्यरत है तो उसे अपने नियोक्ता के माध्यम से आवेदन पत्र भेजना आवश्यक है। ऐसे उम्मीदवारों को अपने कर निर्धारण विवरण और वेतन पर्ची भी संलग्न करना आवश्यक है।

चयन प्रक्रिया 

मंत्रालय द्वारा गठित चयन समिति द्वारा सावधानीपूर्वक विश्लेषण के बाद उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा। उन उम्मीदवारों को वरीयता दी जाएगी जिन्होंने पहले ही किसी विदेशी संस्थान में प्रवेश प्राप्त कर लिया है। अन्य जानकारी ऑफिशल वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं

ओबीसी विद्यार्थियों के लिए मैरिट स्कॉलरशिप – दिल्ली

ओबीसी OBC विद्यार्थियों के लिए मैरिट स्कॉलरशिप ऐसे उम्मीदवारों के लिए है जो 6वीं कक्षा से 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थी हैं। चिकित्सा या इंजीनियरिंग जैसे व्यावसायिक पाठ्यक्रमों का अनुसरण करने वाले विद्यार्थियों के लिए भी स्कॉलरशिप उपलब्ध है। तकनीकी पाठ्यक्रमों का अनुसरण करने वाले विद्यार्थियों को प्रतिमाह 1620 रुपए की अधिकतम राशि और अन्य पाठ्यक्रमों के लिए प्रतिवर्ष 4500 रुपए तक का पुरस्कार दिया जाता है।

पात्रता

  • 6वीं कक्षा से 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थी आवेदन के पात्र हैं
  • व्यावसायिक पाठ्यक्रमों का अनुसरण करने वाले उम्मीदवारों को 12वीं कक्षा या समकक्ष शिक्षा में न्यूनतम 60% अंक प्राप्त करने चाहिए।
  • परिवार की वार्षिक आय सभी स्रोतों को मिलाकर 2,00,000 रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।

मैरिट स्कॉलरशिप के अनुसार पाठ्यक्रम-वार भत्ता 

समूह का नाम डे स्कॉलर – हॉस्टलर्स भत्ता (प्रति माह)
समूह अ –

डिग्री कोर्स- मेडिकल, इंजीनियरिंग, बी.एससी. कृषि, फोरेंसिक विज्ञान

1620 रुपए – 900 रुपए
ग्रुप बी – (आई) एक तकनीकी / व्यावसायिक पाठ्यक्रम में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम 1860 रुपए – 960 रुपए
ग्रुप बी – (द्वितीय) डिप्लोमा स्तर के पाठ्यक्रम- इंजीनियरिंग, वास्तुकला, अनुप्रयुक्त पोषण, मुद्रण प्रौद्योगिकी 1110 रुपए – 720 रुपए
ग्रुप सी – (आई) सर्टिफिकेट कोर्स – इंजीनियरिंग और आर्किटेक्चर 930 रुपए – 630 रुपए
समूह सी – (द्वितीय) चिकित्सा डिप्लोमा पाठ्यक्रम – कृषि / पशु चिकित्सा विज्ञान, डेयरी, मत्स्य पालन, सार्वजनिक स्वास्थ्य 930 रुपए – 630 रुपए
ग्रुप सी – (III) डिग्री या स्नातकोत्तर डिप्लोमा या स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम – संगीत, ललित कला, कानून 930 रुपए – 630 रुपए
ग्रुप डी – (आई) स्नातक स्तर पर सामान्य पाठ्यक्रम 804 रुपए – 420 रुपए
ग्रुप डी – (II) कला और वाणिज्य में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम 930 रुपए – 630 रुपए

आवेदन की प्रक्रिया

उम्मीदवार दिल्ली सरकार के ई-डिस्ट्रिक्ट दिल्ली पोर्टल पर जाएं और आवश्यक विवरण भरें। प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन की जाती है क्योंकि कोई ऑफ़लाइन आवेदन पत्र मौजूद नहीं है।

सम्बंधित दस्तावेज, जैसे आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक (कॉपी), शुल्क रसीद, पासपोर्ट आकार का फोटो और आधार कार्ड अपलोड करना होगा।

ओबीसी के लिए राष्ट्रीय फैलोशिप

ओबीसी OBC के लिए राष्ट्रीय फैलोशिप, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार के दायरे में आती है। इसका उद्देश्य ऐसे ओबीसी विद्यार्थियों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है जो एडवांस डिग्री कोर्स करना चाहते हैं। JRF (जूनियर रिसर्च फैलो) और SRF (सीनियर रिसर्च फैलो) के लिए कुल 300 स्कॉलरशिप उपलब्ध हैं। यह योजना उन सभी विश्वविद्यालयों पर लागू है जो विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा मान्यता प्राप्त हैं। जेआरएफ के लिए स्कॉलरशिप की अवधि दो वर्ष है, हालांकि, उम्मीदवार 3 अतिरिक्त वर्षों के लिए एसआरएफ के रूप में स्कॉलरशिप का लाभ उठा सकते हैं, बशर्ते कि अनुसंधान प्रगतिशील हो।

पात्रता मापदंड

    • उम्मीदवार ओबीसी श्रेणी से संबंधित होना चाहिए साथ ही इससे सम्बंधित दस्तावेज भी होने चाहिए। 
    • जो उम्मीदवार पहले से ही पीएच.डी./एमफिल के लिए पंजीकृत हैं, वे फैलोशिप पाने  के लिए पात्र हैं।
    • सभी स्रोतों को मिलाकर पारिवारिक वार्षिक आय 6,00,000 रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
    • उम्मीदवार ने पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा कर लिया हो।
    • ट्रांसजेंडर उम्मीदवार भी आवेदन के पात्र हैं। भारत सरकार द्वारा निर्धारित मानदंडों के अनुसार आरक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • उम्मीदवार की योग्यता के आधार पर चयन किया जाएगा।

ओबीसी के लिए राष्ट्रीय फैलोशिप – वित्तीय सहायता की सूची

विवरण विषय पुरस्कार
विज्ञान, मानविकी और सामाजिक विज्ञान में फैलोशिप जेआरएफ (जूनियर रिसर्च फैलोशिप) 25,000 रुपए प्रतिमाह, प्रारंभिक दो वर्षों के लिए
एसआरएफ (सीनियर रिसर्च फैलोशिप) 28,000 रुपए प्रतिमाह, शेष अवधि के लिए
आकस्मिकता-ए    मानविकी और सामाजिक विज्ञान 10,000 रुपए प्रति वर्ष, प्रारंभिक दो वर्षों के लिए
20,500 रुपए प्रतिवर्ष शेष अवधि के लिए
आकस्मिकता-बी विज्ञान, इंजीनियरिंग प्रौद्योगिकी प्रति वर्ष 12,000 रुपए, प्रारंभिक दो वर्षों के लिए
25,000 रुपए प्रतिवर्ष, शेष अवधि के लिए
एस्कॉर्ट्स/रीडर सहायता सभी विषय 2,000 रुपए प्रतिमाह, शारीरिक विकलांग और नेत्रहीन उम्मीदवारों के मामलों में।           
एचआरए सभी विषय संबंधित संस्थान के नियमों के अनुसार

आवेदन की प्रक्रिया

  • उम्मीदवारों को यूजीसी की ऑफिशिअल वेबसाइट पर जाना होगा और स्कॉलरशिप के लिए आवेदन करने के लिए संबंधित लिंक की जांच करनी होगी।
  • आवेदन दो भागों में प्रस्तुत किया जाता है, उम्मीदवारों को दोनों को भरना आवश्यक है।
  • सम्बंधित फ़ील्ड जैसे संपर्क विवरण और व्यक्तिगत जानकारी भरें। 
  • शैक्षिक विवरण जैसे संस्थान विवरण, स्नातकोत्तर योग्यता, शोध विषय भरें। 

चयन प्रक्रिया 

उम्मीदवारों का चयन योग्यता सह साधन के आधार पर किया जाता है। योग्य उम्मीदवारों को स्कॉलरशिप प्रदान करने के लिए यूजीसी की अपनी प्रक्रियाएं और दिशानिर्देश भी हैं।

ओएनजीसी स्कॉलरशिप

ओएनजीसी (तेल और प्राकृतिक गैस निगम) ओबीसी श्रेणी के उम्मीदवारों को 1000 स्कॉलरशिप प्रदान करता है। यह स्कॉलरशिप ओबीसी विद्यार्थियों के लिए उनके स्नातक या स्नातकोत्तर के प्रथम वर्ष के पाठ्यक्रमों के लिए लागू है। सफल उम्मीदवारों को पाठ्यक्रम की अवधि के लिए 4,000 रुपए का मासिक भत्ता दिया जाएगा।

पात्रता

  • उम्मीदवार इंजीनियरिंग या चिकित्सा जैसे व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में प्रथम वर्ष का विद्यार्थी हो।
  • एमबीए करने वाले उम्मीदवार भी पात्र हैं।
  • भूभौतिकी या भूविज्ञान में स्नातकोत्तर करने वाले उम्मीदवार भी पात्र हैं।
  • उम्मीदवारों के अंक 12वीं कक्षा में 60% से कम न हों।
  • उम्मीदवारों द्वारा चुने गए पाठ्यक्रमों को एआईसीटीई द्वारा मान्यता प्राप्त होना चाहिए
  • अधिकतम आयु सीमा 30 वर्ष। 

ओएनजीसी स्कॉलरशिप (OBC Scholarship) – पात्र पाठ्यक्रम और वित्तीय सहायता की सूची

पात्र पाठ्यक्रम सूची कार्यकाल (वर्षों में) पुरस्कार (प्रति माह)
इंजीनियरिंग में स्नातक 4 4,000 रुपए
भूविज्ञान / भूभौतिकी में मास्टर्स 2 4,000 रुपए
एमबीए 2 4,000 रुपए
एमबीबीएस 4,000 रुपए

आवेदन की प्रक्रिया

  • आवेदन प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन की जाती है।
  • उम्मीदवारों को आवेदन पत्र प्राप्त करने के लिए ओएनजीसी की ऑफिशिअल  वेबसाइट पर जाना होगा। 
  • आवश्यक फ़ील्ड भरें और दिशानिर्देशों में बताए अनुसार दस्तावेज़ अपलोड करें।
  • अन्य दस्तावेज जैसे ईसीएस को संबंधित बैंक द्वारा विधिवत भरा जाएगा और आवेदन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए साइट पर अपलोड किया जाएगा।

चयन प्रक्रिया

उम्मीदवारों का चयन अध्ययन के निर्धारित पाठ्यक्रम के लिए योग्यता परीक्षा में प्रदर्शन के आधार पर किया जाता है। इसके अलावा, गरीबी रेखा से नीचे के उम्मीदवारों को विशेष वरीयता दी जाती है।

पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप

पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप का उद्देश्य ओबीसी OBC श्रेणी के विद्यार्थियों को माध्यमिक शिक्षा पूरी करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इन स्कॉलरशिप की देख-रेख भारत में राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा की जाती है। इस स्कॉलरशिप को पाने के लिए उम्मीदवार  किसी एक राज्य से बंधे नहीं हैं। इसका मतलब यह है कि एक राज्य से संबंधित उम्मीदवार यदि किसी दूसरे राज्य में कोई कोर्स कर रहा है, तो वह उसी राज्य में संबंधित प्राधिकरण द्वारा स्कॉलरशिप का लाभ प्राप्त कर सकता है। स्कॉलरशिप पुरस्कार का लाभ पाठ्यक्रम के प्रकार (डे स्कॉलर (दिन के विद्वान) या हॉस्टलर्स (छात्रावास)) के आधार पर भिन्न होता है।

पात्रता 

मुख्य पात्रता मानदंड यह है कि उम्मीदवार को ओबीसी श्रेणी से होना चाहिए, अन्य पात्रता मानदंड संबंधित राज्य के अनुसार भिन्न होते हैं।

पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप विवरण

विवरण डे स्कॉलर (प्रति माह) हॉस्टलर्स  (प्रति माह)
समूह अ
  1. डिग्री और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम जैसे पीएच.डी. (चिकित्सा) एम.फिल
  2. वाणिज्यिक पायलट लाइसेंस 
  3. चिकित्सा और प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमा
  4. आईसीडब्ल्यूए/सीए/सीएस
  5. पोस्टडॉक्टोरल कार्यक्रम, पीएच.डी., एम.फिल
  6. एलएलएम
750 रुपए 350 रुपए
ग्रुप बी
  1. नर्सिंग और फार्मेसी में स्नातक और स्नातकोत्तर
  2. एमए, एमकॉम और एमएससी में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम)
510 रुपए 335 रुपए
ग्रुप सी – 

अन्य सभी पाठ्यक्रम: बीएससी, बीए, बी.कॉम

400 रुपए 210 रुपए
ग्रुप डी – 

सभी पोस्ट मैट्रिक स्तर के गैर-डिग्री पाठ्यक्रम – आईटीआई, तीन वर्षीय डिप्लोमा (पॉलिटेक्निक)

260 रुपए 160 रुपए

आवेदन की प्रक्रिया

  • स्कॉलरशिप आवेदन प्रक्रिया ऑफ़लाइन या ऑनलाइन मोड में (संबंधित राज्य के स्कॉलरशिप पोर्टल में) लागू की जा सकती है।
  • सम्बंधित दस्तावेज अपलोड करने होंगे, जैसे-जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र व अंक सूची।

प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप

प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप सरकारी स्कूलों या मान्यता प्राप्त निजी स्कूलों में ओबीसी से संबंधित प्री-मैट्रिक करने वाले विद्यार्थियों को प्रदान की जाती है। विद्यार्थियों को प्रति माह 500 रुपए तक का वजीफा दिया जाता है।

पात्रता 

उम्मीदवार की पारिवारिक वार्षिक आय 2,50,000 रुपए प्रतिवर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप विवरण

आइटम हॉस्टलर्स डे स्कॉलर्स
प्रवेश शुल्क: कक्षा 6वीं से 10वीं 500 रुपए प्रतिवर्ष 500 रुपए प्रतिवर्ष
ट्यूशन शुल्क: कक्षा 6वीं से 10वीं 350 रुपए प्रतिमाह 350 रुपए प्रतिमाह
एक शैक्षणिक वर्ष में केवल 10 महीने के लिए रखरखाव भत्ता देय है
कक्षा पहली से पांचवीं 100 रुपए प्रतिमाह
कक्षा 6वीं से 10वीं 600 रुपए प्रतिमाह 100 रुपए प्रतिमाह

आवेदन प्रक्रिया: 

आवेदन प्रक्रिया को छात्र की ओर से संबंधित स्कूल के अधिकारियों द्वारा नियंत्रित किया जाएगा।

ओबीसी स्कॉलरशिप (OBC Scholarship) – अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न 1 सेंट्रल  सेक्टर  स्कीम  फॉर  नेशनल  ओवरसीज का पोर्टल कब खुलता है?

उत्तर: आवेदन करने की संभावित अवधि हर साल जुलाई और अक्टूबर के बीच है।

प्रश्न 2 सेंट्रल  सेक्टर  स्कीम  फॉर  नेशनल  ओवरसीज  की ऑफिशिअल साइट क्या है? 

जवाब: ऑफिशिअल साइट  http://nosmsje.gov.in/ पर यह स्कीम देखी जा सकती है।

प्रश्न 3 ओबीसी के लिए राष्ट्रीय फैलोशिप के लिए आवेदन की अवधि क्या है?

जवाब: ओबीसी के लिए राष्ट्रीय फैलोशिप के लिए आवेदन विंडो हर वर्ष जुलाई से अगस्त तक खुलती है। तारीखें संभावित हैं और बदल सकती हैं।

प्रश्न 4. ओबीसी के लिए नेशनल फैलोशिप  की ऑफिशिअल साइट क्या है? 

जवाब: ऑफिशिअल वेबसाइट और आवेदन पत्र  https://www.ugc.ac.in/nfobc/ पर देखा जा सकता है।

प्रश्न 5. ओएनजीसी स्कॉलरशिप के लिए आवेदन की अवधि कब है?

जवाब: एप्लिकेशन विंडो सितंबर से शुरू होती है और अक्टूबर के अंत तक बंद हो जाती है।

प्रश्न 6. ओएनजीसी स्कॉलरशिप के लिए आवेदन करने के लिए ऑफिशिअल वेबसाइट क्या है?

जवाब: ओएनजीसी स्कॉलरशिप के लिए आवेदन पत्र https://www.ongcindia.com/ पर देखा जा सकता है।

You may also like

Leave a Comment